15591494_1185986468157990_1309303697231284370_o

अंक ज्योतिष
अंक ज्योतिष के अनुसार जन्म तारीख के कुल योग को मूलांक कहते है , DD :MM :YYYY के कुल योग को भाग्यांक कहते है, मूलांक और भाग्यांक के अनुसार काम करने से जीवन में रुके हुए काम पुरे होते चले जाते है :-
अंकज्योतिष में नौ ग्रहों सूर्य, चन्द्र, गुरू, यूरेनस, बुध, शुक्र, वरूण, शनि और मंगल की विशेषताओं के आधार पर गणना की जाती है। इन में से प्रत्येक ग्रह के लिए 1 से लेकर 9 तक कोई एक अंक निर्धारित किया गया है, कौन से ग्रह पर किस अंक का असर होता है। ये नौ ग्रह मानव जीवन पर गहरा प्रभाव डालते हैं।
आइये जाने किस अंक का कौन स्वामी है :-
जन्म तारीख 1, 10, 19, 28 का मूलांक 1 का स्वामी सूर्य है
2, 11, 20, 29 तारीख को जन्मे व्यक्ति का मूलांक- 2 स्वामी चंद्रमा
3, 12, 21, 30 मूलांक- 3, स्वामी गुरू
4, 13, 22, 31 मूलांक 4 का स्वामी- राहु
5, 14, 23 मूलांक 5 स्वामी बुध
6, 15, 24 मूलांक 6 स्वामी शुक्र
7, 16, 25 मूलांक 7 स्वामी केतु
8, 17, 26 मूलांक 8 स्वामी- शनि-
9, 18, 27 मूलांक 9 स्वामी मंगल
आइये जाने भाग्यशाली अंक, अंको के रंग और शुभ दिशा
मूलांक 1 : यह अंक स्वतंत्र व्यक्तित्व का धनी है। इससे संभावित अंह का बोध, आत्म निर्भरता, प्रतिज्ञा, दृढ़ इच्छा शक्ति एवं विशिष्ट व्यक्तित्व दृष्टि गोचर होता है। इसके स्वामी सूर्य हैं. जिस व्यक्ति का जन्म समय 21 जुलाई से 28 अगस्त के मध्य हो, का प्रभाव सूर्य के नियंत्रण में होता है, इनके लिए शुभ तिथि 1,10,19 एवं 28 तारीख है. चार अंक से इनका जबरदस्त आकर्षण होता है. इनके लिए शुभ दिन रविवार एवं सोमवार है, तो शुभ रंग पीला, हरा एवं भूरा है. ये अपने ऑफिस, शयनकक्ष परदे, बेडशीट एवं दीवारों के रंग इन्हीं रंगों में करें, तो भाग्य पूर्णत: साथ देता है. इस मूलांक के व्यक्ति शासन के शीर्ष पद पर देखे जाते हैं. छह एवं आठ अंक वाले इनके शत्रु हैं. इनकी शुभ दिशा ईशान कोण है.
मूलांक 2 : अंक दो का संबंध मन से है। यह मानसिक आकर्षण, हृदय की भावना, सहानुभूति, संदेह, घृणा एवं दुविधा दर्शाता है। इसका प्रतिनिधित्व चन्द्र को मिला है, इस अंक का स्वामी चंद्रमा है 2,11, 20, 29 तारीख अति शुभ हैं. रविवार, सोमवार एवं शुक्रवार श्रेष्ठ दिन हैं. सफेद एवं हल्का हरा इनके शुभ रंग हैं.
मूलांक 3 : इस अंक के स्वामी देव गुरु वृहस्पति हैं .इससे बढ़ोत्तरी, बुद्धि विकास क्षमता, धन वृद्धि एवं सफलता मिलती है। 3, 12, 21 एवं 30 तारीख इनके लिए विशेष शुभ हैं. मंगलवार, गुरुवार एवं शुक्रवार श्रेष्ठ है. पीला एवं गुलाबी रंग अतिशुभ है. शुभ माह जनवरी एवं जुलाई है. दक्षिण, पश्चिम एवं अग्नि कोण श्रेष्ठ दिशा है.
मूलांक 4 : इस अंक से मनुष्य की हैसियत, भौतिक सुख संपदा, सम्पत्ति, कब्जा, उपलब्धि एवं श्रेय प्राप्त होता है। इसका प्रतिनिधि हर्षल और राहु हैं. 2, 11, 20 एवं 29 तारीख शुभ है. रविवार, सोमवार एवं शनिवार श्रेष्ठ दिन हैं, जिसमें शनिवार सर्वश्रेष्ठ है. नीला एवं भूरा रंग शुभ है.
मूलांक 5 : इस अंक का स्वामी बुध है. शुभ तिथि 5, 14 एवं 23 है. सोमवार, बुधवार एवं शुक्रवार श्रेष्ठ है. उसमें शुक्रवार सर्वाधिक शुभ है. सफेद, खाकी एवं हल्का हरा रंग इनके लिए शुभ है. इनके लिए अशुभ अंक 2, 6 और 9 है.
मूलांक 6 : इस अंक का स्वामी शुक्र है. छह का अंक वैवाहिक जीवन, प्रेम एवं प्रेम-विवाह, आपसी संबंध, सहयोग, सहानुभूति, संगीत, कला, अभिनय एवं नृत्य का परिचायक है।शुभ तिथि माह की 6,15 एवं 24 तारीख है. मंगलवार, गुरुवार एवं शुक्रवार श्रेष्ठ दिन है जिसमें शुक्रवार सर्वश्रेष्ठ है. आसमानी, हल्का एवं गहरा नीला एवं गुलाबी रंग शुभ हैं. लाल एवं काले रंग का प्रयोग वर्जित है.
मूलांक 7 : इस अंक का स्वामी केतु है. सात का अंक आपसी ताल मेल, साझेदारी, समझौता, अनुबंध, शान्ति, आपसी सामंजस्य एवं कटुता को जन्म देता है।महीना के 7, 16 एवं 25 तारीख सर्वश्रेष्ठ है. 21 जून से 25 जुलाई तक का समय भी श्रेष्ठ है. रविवार, सोमवार एवं बुधवार श्रेष्ठ हैं. जिसमें सोमवार सर्वश्रेष्ठ है. शुभ रंग हरा, सफेद एवं हल्का पीला है.
मूलांक 8 : इस अंक का स्वामी शनि हैं. 8, 17 एवं 26 तारीख श्रेष्ठ तिथि हैं.शनि का अंक होने से इस अंक से क्षीणता, शारीरिक मानसिक एवं आर्थिक कमजोरी, क्षति, हानि, पूर्ननिर्माण, मृत्यु, दुःख, लुप्त हो जाना या बहिर्गमन हो जाता है, रविवार, सोमवार एवं शनिवार शुभ हैं. जिसमें शनिवार सर्वाधिक शुभ है. भूरा, गहरा नीला, बैगनी, सफेद एवं काला शुभ रंग है. हृदय एवं वायु रोग इनके प्रभाव क्षेत्र हैं. दक्षिण, दक्षिण-पश्चिम एवं दक्षिण-पूर्व दिशा शुभ हैं.
मूलांक 9 : अंक नौ का स्वामी मंगल है. इस मूलांक के लोगों पर मंगल ग्रह का प्रभाव सर्वाधिक है.यह अन्तिम ईकाई अंक होने से संघर्ष, युद्ध, क्रोध, ऊर्जा, साहस एवं तीव्रता देता है। इससे विभक्ति, रोष एवं उत्सुकता प्रकट होती है। इसका प्रतिनिधि मंगल ग्रह है जो युद्ध का देवता है 9, 18 एवं 27 श्रेष्ठ तारीख है. मंगलवार, गुरुवार एवं शुक्रवार शुभ दिन है. गहरा लाल एवं गुलाबी शुभ रंग है. पूर्व, उत्तर-पूर्व एवं उत्तर-पश्चिम दिशा अतिशुभ हैं. हनुमान जी की अराधना श्रेष्ठ है
(2)अंकशास्त्र में मुख्य रूप से नामांक (Name Number), मूलांक (Root Number) और भाग्यांक (Destiny Number) इन तीन विशेष अंकों को आधार मानकर फलादेश किया जाता है. विवाह के संदर्भ में भी इन्हीं तीन प्रकार के अंकों के बीच सम्बन्ध को देखा जाता है.
अंक ज्योतिष (Numerology) भविष्य जानने की एक विधा है. अंक ज्योतिष से ज्योतिष की अन्य विधाओं की तरह भविष्य और सभी प्रकार के ज्योंतिषीय प्रश्नों का उत्तर ज्ञात किया जा सकता है. विवाह जैसे महत्वपूर्ण विषय में भी अंक ज्योतिष और उसके उपाय काफी मददगार साबित होते हैं.
अंक ज्योंतिष अपने नाम के अनुसार अंक पर आधारित है. अंक शास्त्र के अनुसार सृष्टि के सभी गोचर और अगोचर तत्वों अपना एक निश्चत अंक होता है. अंकों के बीच जब ताल मेल नहीं होता है तब वे अशुभ या विपरीत परिणाम देते हैं. अंकशास्त्र में मुख्य रूप से नामांक, मूलांक और भाग्यांक इन तीन विशेष अंकों को आधार मानकर फलादेश किया जाता है. विवाह के संदर्भ में भी इन्हीं तीन प्रकार के अंकों के बीच सम्बन्ध को देखा जाता है. अगर वर और वधू के अंक आपस में मेल खाते हैं तो विवाह हो सकता है. अगर अंक मेल नहीं खाते हैं तो इसका उपाय करना होता है ताकि अंकों के मध्य मधुर सम्बन्ध स्थापित हो सके.
वैदिक ज्योतिष (Vedic Astrology) एवं उसके समानांतर चलने वाली ज्योतिष विधाओं में वर वधु के वैवाहिक जीवन का आंकलन करने के लिए जिस प्रकार से कुण्डली से गुण मिलाया जाता ठीक उसी प्रकार अंकशास्त्र में अंकों को मिलाकर (Numerology Marriage compatibility) वर वधू के वैवाहिक जीवन का आंकलन किया जाता है.
अंकशास्त्र से वर वधू का गुण मिलान (Matching for marriage through Numerology)
अंकशास्त्र में वर एवं वधू के वैवाहिक गुण मिलान के लिए, अंकशास्त्र के प्रमुख तीन अंकों में से नामांक ज्ञात किया जाता है. नामांक ज्ञात करने के लिए दोनों के नामों को अंग्रेजी के अलग अलग लिखा जाता है. नाम लिखने के बाद सभी अक्षरों के अंकों को जोड़ा जाता है जिससे नामांक ज्ञात होता है. ध्यान रखने योग्य तथ्य यह है कि अगर मूलक 9 से अधिक हो तो योग से प्राप्त संख्या को दो भागों में बांटकर पुन: योग किया जाता है. इस प्रकार जो अंक आता है वह नामांक होता है. उदाहरण से योग 32 आने पर 3+2=5. वर का अंक 5 हो और कन्या का अंक 8 तो दोनों के बीच सहयोगात्मक सम्बन्ध रहेगा, अंकशास्त्र का यह नियम है.
वर वधू के नामांक का फल (Matching by Name Number)
अंकशास्त्र के नियम के अनुसार अगर वर का नामांक 1 है और वधू का नामांक भी एक है तो दोनों में समान भावना एवं प्रतिस्पर्धा रहेगी जिससे पारिवारिक जीवन में कलह की स्थिति होगी. कन्या का नामांक 2 होने पर किसी कारण से दोनों के बीच तनाव की स्थिति बनी रहती है. वर 1 नामांक का हो और कन्या तीन नामांक की तो उत्तम रहता है दोनों के बीच प्रेम और परस्पर सहयोगात्मक सम्बन्ध रहता है. कन्या 4 नामंक की होने पर पति पत्नी के बीच अकारण विवाद होता रहता है और जिससे गृहस्थी में अशांति रहती है. पंचम नामंक की कन्या के साथ गृहस्थ जीवन सुखमय रहता है. सप्तम और नवम नामाक की कन्या भी 1 नामांक के वर के साथ सुखमय वैवाहिक जीवन का आनन्द लेती है जबकि षष्टम और अष्टम नामांक की कन्या और 1 नमांक का वर होने पर वैवाहिक जीवन के सुख में कमी आती है.
वर का नामांक 2 हो और कन्या 1 व 7 नामांक की हो तब वैवाहिक जीवन के सुख में बाधा आती है. 2 नामांक का वर इन दो नामांक की कन्या के अलावा अन्य नामांक वाली कन्या के साथ विवाह करता है तो वैवाहिक जीवन आनन्दमय और सुखमय रहता है. तीन नामांक की कन्या हो और वर 2 नामांक का तो जीवन सुखी होता है परंतु सुख दुख धूप छांव की तरह होता है. वर 3 नामांक का हो और कन्या तीन, चार अथवा पांच नामांक की हो तब अंकशास्त्र के अनुसार वैवाहिक जीवन उत्तम नहीं रहता है. नामांक तीन का वर और 7 की कन्या होने पर वैवाहिक जीवन में सुख दु:ख लगा रहता है. अन्य नामांक की कन्या का विवाह 3 नामांक के पुरूष से होता है तो पति पत्नी सुखी और आनन्दित रहते हैं.
4 अंक का पुरूष हो और कन्या 2, 4, 5 अंक की हो तब गृहस्थ जीवन उत्तम रहता है. चतुर्थ वर और षष्टम या अष्टम कन्या होने पर वैवाहिक जीवन में अधिक परेशानी नहीं आती है. 4 अंक के वर की शादी इन अंकों के अलावा अन्य अंक की कन्या से होने पर गृहस्थ जीवन में परेशानी आती है. 5 नामांक के वर के लिए 1, 2, 5, 6, 8 नामांक की कन्या उत्तम रहती है. चतुर्थ और सप्तम नामांक की कन्या से साथ गृहस्थ जीवन मिला जुला रहता है जबकि अन्य नामांक की कन्या होने पर गृहस्थ सुख में कमी आती है. षष्टम नामांक के वर के लिए 1एवं 6 अंक की कन्या से विवाह उत्तम होता है. 3, 5, 7, 8 एवं 9 नामांक की कन्या के साथ गृहस्थ जीवन सामान्य रहता है और 2 एवं चार नामांक की कन्या के साथ उत्तम वैवाहिक जीवन नहीं रह पाता.
वर का नामांक 7 होने पर कन्या अगर 1, 3, 6, नामांक की होती है तो पति पत्नी के बीच प्रेम और सहयोगात्मक सम्बन्ध होता है. कन्या अगर 5, 8 अथवा 9 नामंक की होती है तब वैवाहिक जीवन में थोड़ी बहुत परेशानियां आती है परंतु सब सामान्य रहता है. अन्य नामांक की कन्या होने पर पति पत्नी के बीच प्रेम और सहयोगात्मक सम्बन्ध नहीं रह पाता है. आठ नामांक का वर 5, 6 अथवा 7 नामांक की कन्या के साथ विवाह करता है तो दोनों सुखी होते हैं. 2 अथवा 3 नामांक की कन्या से विवाह करता है तो वैवाहिक जीवन सामान्य बना रहता है जबकि अन्य नामांक की कन्या से विवाह करता है तो परेशानी आती है. 9 नामांक के वर के लिए 1, 2, 3, 6 एवं 9 नामांक की कन्या उत्तम होती है जबकि 5 एवं 7 नामांक की कन्या सामान्य होती है. 9 नामांक के वर के लिए 4 और 8 नामांक की कन्या से विवाह करना अंकशास्त्र की दृष्टि से शुभ नही होता है.
अंक ज्योतिष (Numerology)
संसार में ज्योतिष की कई शाखाऎं (Branches Of Astrology) हैं, जिनमें से अंक ज्योतिष भी एक है. सामान्यतय ज्योतिष में ग्रहो का प्रभाव कार्य करता है. प्रत्येक ग्रह किसी न किसी नम्बर से जुडा हुआ है या हुम इस प्रकार भी कह सकते हैं कि कोइ एक नम्बर किसी ग्रह विशेष का प्रतिनिधित्व करता है,
जैसे कि 1 नम्बर सूर्य (1 Number of Sun), 2 नम्बर चन्द्र (2 Number of Moon) तथा 9 नम्बर मंगल (9 Number Of Mars) या इत्यादि. नम्बर 1 से 9 तक ही लिए जाते हैं. 0 को इसमें सम्मिलित नही किया गया है. ग्रह भी 9 ही होते हैं, अतः प्रत्येक ग्रह का एक विशेष अंक है. पाश्चात्य अंक ज्योतिष (Numerology) सात ग्रहो के अलावा नैपच्यून व यूरेनस को क्रमशः आठवाँ व नौवा ग्रह मानता है. जबकि भारतीय अंक ज्योतिष राहु-केतु को आठवें एंव नवें ग्रह के रुप में लेता है. भारतीय एंव पाश्चात्य अंक ज्योतिष के फलादेश (Jyotish Phaladesh) कथन में थोडा सा अन्तर रहता है…………अब हम अंक ज्योतिष विज्ञान के कार्य करने के तरीके (Method Of Numerology) की विवेचना करेंगे. वैसे तो अंक ज्योतिष में बहुत सारी परिभाषाएँ सामने आती हैं, परन्तु हम इसमें मुख्य रुप से दो परिभाषाओ मूलांक (Root Number/ Ruling Number) तथा भाग्यांक (Fadic Number) की ही चर्चा करेंगे. किसी भी व्यक्ति की जन्म तारीख उसका मूल्यांक होता है. जैसे कि 2 जुलाई को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 2 होता है तथा 14 सितम्बर वाले का 1+4 = 5. तथा किसी भी व्यक्ति की सम्पूर्ण जन्म तारीख के योग को घटा कर एक अंक की संख्या को उस व्यक्ति विशेष का भाग्यांक( Bhagya Anka) कहते हैं, जैसे कि 2 जुलाई 1966 को जन्मे व्यक्ति का भाग्यांक 2+07+1+9+6+6= 31 = 3+1= 4, होगा. मूलांक तथा भाग्यांक स्थिर होते हैं, इनमें परिवर्तन सम्भव नही. क्योंकि किसी भी तरीके से व्यक्ति की जन्म तारीख बदली नही जा सकती…………
व्यक्ति का एक और अंक होता है जिसे सौभाग्य अंक (Destiny Number/ Lucky Number) कहते हैं. यह नम्बर परिवर्तनशील है. व्यक्ति के नाम के अक्षरो के कुल योग से बनने वाले अंक को सौभाग्य अंक कहा जाता है, जैसे कि मान लो किसी व्यक्ति का नाम RAMAN है, तो उसका सौभाग्य अंक R=2, A=1, M=4, A=1, एंव N=5 = 2+1+4+1+5 =13 =1+3 =4 होगा. यदि किसी व्यक्ति का सौभाग्य अंक उसके अनुकूल नही है तो उसके नाम के अंको में घटा जोड करके सौभाग्य अंक (Saubhagya Anka) को परिवर्तित कर सकते हैं, जिससे कि वह उस व्यक्ति के अनुकूल हो सके. सौभाग्य अंक का सीधा सम्बन्ध मूलांक से होता है. व्यक्ति के जीवन में सबसे अधिक प्रभाव मूलांक का होता है. चूंकि मूलांक स्थिर अंक होता है तो वह व्यक्ति के वास्तविक स्वभाव को दर्शाता है तथा मूलांक का तालमेल ही सौभाग्य अंक से बनाया जाता है.
व्यक्ति के जीवन में उतार-चढाव का कारण सौभाग्य अंक होता है. उदाहरण के लिए मान लो कि हम किसी शहर में जाकर नौकरी/ व्यवसाय करना चाहते हैं, तो हमें उस शहर का शुभांक (Shubha Anka) मालूम करना होगा फिर उस शुभांक को स्वंय के सौभाग्य अंक से तुलना करेंगे. यदि दोनो अंको में बेहतर ताल-मेल है अर्थात दोनो अंक आपस में मित्र ग्रुप के है तो वह शहर आपके अनुकूल होगा, और यदि दोनो अंक एक दूसरे से शत्रुवत व्यवहार रखते हैं तो उस शहर में आपके कार्य की हानि होगी. अब हमारे सामने दो विकल्प हैं, एक तो हम उस शहर विशेष को ही त्याग दें तथा अन्य किसी शहर में चले जायें, यदि एसा करना सम्भव न हो तो दूसरे विकल्प के रुप में हम अपने नाम के अक्षरो में इस प्रकार परिवर्तन करें कि वो उस शहर विशेष से भली भांति तालमेल बैठा लें. यही सबसे सरल तरीका है.
इस प्रकार हम अंक ज्योतिष के माध्यम से अपने जीवन को सुखी एंव समृद्ध बना सकते है एंव दुख व कष्टो को कम कर सकते हैं..
(3).आपका मूलांक और व्यवसाय……………………………………………………………………..
जिनका जन्म 1, 10, 19, 28 तारीख को हुआ है, उनका मूलांक एक होता है। एक अंक सूर्य का प्रतिनिधित्व करता है। एक अंक से प्रभावित व्यक्ति किसी के नियंत्रण में काम करना पसंद नहीं करते हैं। आजीविका की दृष्टि से आपके लिए दवा, ऊन, धान्य, सोना, मोती आदि का व्यापार अनुकूल रहेगा तथा इन क्षेत्रों में आप विशेष सफल होंगे।
जिनका जन्म 2, 11, 20, 23 तारीख को हुआ है, उनका मूलांक 2 होता है। अंक 2 का स्वामी चंद्रमा है। मूलांक दो वाले कोमल तथा बहुत ही सुंदर होते हैं। ये विनम्र, कल्पनाशील और भावुक होते हैं। आजीविका की दृष्टि से आपके लिए मोती, कृषि, बच्चों के खिलौने, फैंसी स्टोर, रेडीमेड स्टोर आदि का व्यापार विशेष सफलतादायक होगा।
जिनका जन्म 3, 12, 21, 30 तारीख को हुआ है, उनका मूलांक 3 होता है। अंक 3 का प्रतिनिधि ग्रह बृहस्पति है। तीन अंक वाले जातक निश्चित रू प से महत्वाकांक्षी तथा अनुशासनप्रिय होते हैं। अध्यापन वृत्ति तथा स्टेशनरी आदि के व्यापार से आजीविका प्राप्त होती है। 3 मूलांक के व्यक्ति अधिकांशत: सरकारी संस्थाओं में उच्च पदासीन देखे जाते हैं।
जिन व्यक्तियों का जन्म 4, 13, 22, 31 तारीख को होता है उनका मूलांक 4 होता है। भारतीय पद्धति के अनुसार इसका स्वामी ग्रह राहु है। इस अंक वाले व्यक्ति सात्विक ह्वदय एवं उदार प्रवृत्ति के होते हैं। ये स्पष्टवादी होते हैं। जीवन में प्राय: विरोधियों का सामना करना पड़ता है। आजीविका की दृष्टि से आपके लिए रेलवे, वायुयान, खान, तकनीक कार्य, पुरातत्व, ज्योतिष आदि कार्य अनुकूल रहेंगे।
जिनका जन्म 5, 14, 23 तारीख को होता है उनका मूलांक 5 होता है। अंक 5 का अधिष्ठाता बुध ग्रह है। पांच अंक वाले जातक वाक्पटु, व्यापारिक मानसिक वाले, पुष्ट शरीर व ठिगने कद के होते हैं। आजीविका की दृष्टि से आपके लिए लकड़ी का कारखाना, फर्नीचर, ज्योतिष, वैद्यक आदि कार्य सफलतादायक होंगे।
जिनका जन्म 6, 15, 24 तारीख को होता है उनका मूलांक 6 होता है। अंक 6 का स्वामी शुक्र है। इस अंक वाले लोगों में आकर्षण शक्ति विशेष होती है। ये लोकप्रिय होते हैं। आजीविका की दृष्टि से आपके लिए चौपायों के खरीदने-बेचने का कार्य, गुड़, चावल, किराना का व्यापार अथवा फैंसी स्टोर के व्यापार में सफलता प्राप्त होती है।
जिन व्यक्तियों का जन्म 7, 16, 25 तारीख को होता है उनका मूलांक 7 होता है। 7 अंक से प्रभावित जातक उग्र स्वभाव के, मौलिकतावादी, प्रभावशाली व्यक्तित्व के धनी होते हैं। 7 अंक का अधिष्ठाता नेपच्यून [वरूण] ग्रह है। आजीविका की दृष्टि से आप दवा, घास, स्वर्ण, सेना में कार्य सफलतादायक होगा।
जिन व्यक्तियों का जन्म 8, 17, 26 तारीख को होता है उनका मूलांक 8 होता है। 8 अंक से प्रभावित जातक स्वभाव से हर बात की गहराई में जाने वाले होते हैं। ऎसे व्यक्ति जीवकाल में महžवपूर्ण भूमिका अदा करते हैं। अंक 8 का स्वामी शनि है। आजीविका की दृष्टि से आप लोहे का व्यापार, तिल, तेल, ऊन आदि के व्यापार में विशेष प्रगति पा सकते हैं।
जिन व्यक्तियों का जन्म 9, 18, 27 तारीख को होता है उनका मूलांक 9 होता है। 9 अंक का स्वामी मंगल है। 9 अंक से प्रभावित जातक तेजस्वी व उग्र स्वभाव के होते हैं। आजीविका की दृष्टि से आप तांबा व पीतल के बर्तनों की दुकान एवं कोयला आदि के व्यापार में, सोना, पुलिस आदि क्षेत्रों में शीघ्र सफलता प्राप्त कर सकते हैं। -………………….
अंक ज्योतिष के अनुसार निन्म उपाय करे
मूलांक १ – श्री गणेश की पूजा करे और महीने में एक रविवार को गेहू दान करे
मूलांक २ – महालक्ष्मी की पूजा करे और महीने में एक सोमवार को चावल का दान करे
मूलांक ३ – श्री गणेश और लक्ष्मी की साथ में पूजा करे और महीने में एक गुरुवार को चने की दाल का दान करे
मूलांक ४ – श्री हनुमानजी का पूजन करे और महीने में एक शनिवार को काले तिल का दान करे
मूलांक ५ – श्री हरी विष्णु का पूजन करे और महीने में एक बुधवार को साबुत मुंग का दान करे
मूलांक ६ – आशुतोष शिव का पूजन करे और महीने में एक बार बुधवार को गाय को हरा चारा डाले
मूलांक ७ – हररोज शिवलिंग पर जलाभिषेक करे और हर मंगलवार को सफ़ेद तिल का दान करे
मूलांक ८ – श्री कृष्ण का पूजन करे और महीने के हर शनिवार को साबुत मुंग का दान करे
मूलांक ९ – श्री भैरव का पूजन करे और महीने में हर मंगलवार को मसूर की दाल का दान
4…गाड़ी नंबर और रंग
यदि आप अपनी गाड़ी का नंबर और रंग, अंक ज्योतिष के अनुसार रखें तो भविष्यमें होने वाली दुर्घटनाएं टल जाती है। जानिए अंक ज्यातिष के अनुसार कैसाहोना चाहिए आपका गाड़ी नंबर और रंग..
अंक- 1 आपको अपने वाहन के नंबर काकुल योग 1, 2, 4 या 7 रखना चाहिये। पीले, सुनहरे, अथवा हल्के रंग के वाहनखरीदना चाहिए। आप 6 या 8 नंबर वाला वाहन न रखें साथ ही नीले, भूरे, बैंगनीया काले रंग के वाहन न खरीदें।
अंक- 2 आपके लिए वो वाहन अनुकूल है जिनकाकुल योग 1, 2, 4 या 7 हो। 9 नंबर वाले वाहन ना रखें। आप सफेद अथवा हल्केरंग का वाहन खरीदें। लाल अथवा गुलाबी रंग की वाहन न लें।
अंक-3 आपकीगाड़ी नंबर का कुल योग 3,6, या 9 होना चाहिये। 5 या 8 नंबर वाला वाहन आपकेलिए अच्छा नही रहेगा। पीले, बैंगनी, या गुलाबी रंग का वाहन खरीदें। हल्केहरे, सफेद ,भुरे रंग के वाहनों से बचें।
अंक-4 इस अंक वालों की गाड़ीनंबर का कुल योग 1, 2, 4 या 7 होना चाहिये। इनको 9, 6 या 8 नंबर वाले वाहनसे हानि हो सकती है। नीले या भूरे रंग के वाहन खरीदें और गुलाबी या कालेरंग की वाहन न खरीदें।
अंक-5 अगर आपका मूलांक 5 है तो आपको गाड़ी नंबरका कुल योग 5 रखना चाहिये। 3, 9 या 8 नंबर वाला वाहन ना रखें। हल्के हरे, सफेद अथवा भुरे रंग का वाहन खरीदें। पीले, गुलाबी या काले रंग की वाहन सेहानि हो सकती है।
अंक-6 मूलांक 6 वालों को गाड़ी नंबर का कुल योग 3, 6, या 9 रखना चाहिये। 4 या 8 नंबर से बचें। आपको हल्के नीले, गुलाबी, अथवापीले रंग का वाहन खरीदना चाहिए। काले रंग का वाहन क्रय करने से बचें।
अंक -7 आपकी गाड़ी नंबर का कुल योग 1, 2, 4 या 7 होना चाहिए। 9 या 8 नंबर वालावाहन नही होना चाहिए। नीले, या सफेद रंग का वाहन खरीदें।
अंक-8 इस अंकवालों को अपना गाड़ी नंबर का कुल योग 8 रखना चाहिये। 1 या 4 नंबर वाला वाहनना रखें तो बेहतर होगा. आपका अंक शनि का अंक है। इसलिए आप काले, नीले, अथवा बैगनी रंग के वाहन खरीदें।
अंक-9 मूलांक 9 वाले लोग आपनी गाड़ीनंबर का कुल योग 9, 3, या 6 रखे तो उन्हे अच्छा लाभ मिलता है। 5 या 7 नंबरवाले वाहन से नुकसान हो सकता है। बेहतर होगा आप लाल, या गुलाबी रंग का वाहनखरीदें।
यदि आपने कोई नया वाहन खरीदा हैं और आपके मन में हमेशा यही डरबना रहता है कि आपके या आपके परिवार के किसी भी सदस्य की थोड़ी सी भीलापरवाही से कहीं आपकी नए वाहन का एक्सीडेंट न हो जाए। कई बार हमारे साथऐसा होता है कि नए वाहन खरीदने के कुछ दिनों के भीतर ही कोई एक्सीडेंट होजाता है। वाहन में खराबी आ जाती है। आपको भी चोट लगती है। आपकी अशुभ ग्रहोंकी दशा या अंतरदशा चल रही हैं या अनजाने में आपने अशुभ मुहूर्त में वाहनखरीद लिया हैं, तो घबराए नहीं नीचे लिखे उपाय को अपनाकर आप किसी भी तरह कीवाहन दुर्घटना को टाल सकते हैं।- शनिवार को काले रंग की एक पोटली में कालेतिल, सुपारी और सिन्दूर रखकर उसे अपने वाहन पर आगे की ओर बांध दें। इस उपायको अपनाकर आप अपने वाहन को किसी भी तरह की दुर्घटना से बचा सकते हैं।

5…जन्म तारीख से जानिए आपके और दूसरों के स्वभाव से जुड़ी खास बातें

जन्म तारीख से जानिए आपके और दूसरों के स्वभाव से जुड़ी खास बातें
अपने आसपास रहने वाले किसी भी व्यक्ति का स्वभाव और खास बातें जानने की इच्छा होना बहुत ही आम बात है। दूसरों के गुण और दोष जानना तो काफी लोग चाहते हैं, लेकिन आसानी से जान नहीं पाते हैं। यदि आप भी अपने आसपास रहने वाले मित्रों या सहकर्मियों के गुण या दोष जानना चाहते हैं तो यहां बहुत ही सरल तरीके से सभी लोगों के गुण-दोष बताए जा रहे हैं।

यहां बताई जा रही विधि के अनुसार आप किसी भी व्यक्ति की जन्म तारीख से काफी कुछ जान सकते हैं। एक वर्ष में 12 माह होते हैं और हर माह में दिनों की संख्या अलग-अलग है। यहां दिनांक 1 से 31 तक की जन्म तारीख वाले लोगों की खास बातें बताई जा रही हैं।

ज्योतिष से किसी भी व्यक्ति के स्वभाव को जानने की कई विधियां बताई गई हैं। इन विधियों में से एक विधि अंकशास्त्र भी है। व्यक्ति का जन्म जिस दिन होता है, उसका तारीख का असर जीवनभर बना रहता है। हर एक दिन का ग्रह स्वामी अलग-अलग होता है। ग्रह स्वामी के स्वभाव के अनुसार ही व्यक्ति का स्वभाव और आदतें बनती हैं।

1 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 1 तारीख को हुआ है, उन सभी लोगों का लकी नंबर 1 होता है। अंक 1 का कारक ग्रह सूर्य है। इसलिए अंक 1 वाले सभी लोगों को सूर्य विशेष रूप से प्रभावित करता है।

अंक ज्योतिष के अनुसार 1 अंक वाले व्यक्ति रचनात्मक, सकारात्मक सोच वाले और नेतृत्व क्षमता के धनी होते हैं। ये लोग जो कार्य शुरू करते हैं, उसे जब तक पूरा नहीं करते, इन्हें शांति नहीं मिलती। इन लोगों का विशेष गुण होता है कि यह हर कार्य को पूर्ण योजना बनाकर करते हैं, अपने कार्य के प्रति पूरे ईमानदार रहते हैं।

- अंक 1 वाले लोगों के लिए रविवार और सोमवार विशेष लाभ देने वाले दिन हैं।

- इनके लिए पीला, सुनहरा, भूरा रंग काफी फायदेमंद है।

- तांबा और सोना से इन्हें विशेष लाभ प्रदान करता है।

- इनके लिए पुखराज, पीला हीरा, कहरुवा और पीले रंग के रत्न, जवाहरात आदि लाभदायक हैं।
2 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 2 तारीख को हुआ है, वे सभी अंक 2 वाले लोग माने जाते हैं। यह नंबर चंद्रमा का प्रतीक माना जाता है। चंद्रमा रचनात्मकता और कल्पनाशीलता का प्रतिनिधित्व करता है। चंद्रमा के सभी गुण अंक 2 वाले में विद्यमान रहते हैं।

जिस प्रकार चंद्रमा को चंचलता का प्रतीक माना जाता है कि ठीक उसी प्रकार अंक 2 वाले भी चंचल स्वभाव के होते हैं। चंद्र के प्रभाव से ये लोग प्रेम-प्रसंग में भी पारंगत रहते हैं।

- इस अंक के लोगों के लिए रविवार, सोमवार और शुक्रवार काफी शुभ दिन होते हैं।

- इनके लिए हरा या हल्का हरा रंग बेहद फायदेमंद है। क्रीम और सफेद रंग भी विशेष लाभ देते हैं।

- लाल, बैंगनी या गहरे रंग इनके लिए अच्छे नहीं होते।

- अंक 2 वाले लोगों को मोती, चंद्रमणि, पीले-हरे रत्न पहनना चाहिए।

3 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 3 तारीख को हुआ है, वे लोग अंक 3 के व्यक्ति माने जाते हैं। अंक 3 वाले लोग काफी महत्वाकांक्षी होते हैं।

अंक तीन का ग्रह स्वामी गुरु अर्थात बृहस्पति है। ज्योतिष और न्यूमरोलॉजी के अनुसार इस अंक से संबंधित लोगों को बृहस्पति विशेष रूप से प्रभावित करता है। यह लोग अधिक समय तक किसी के अधीन कार्य करना पसंद नहीं करते, ये लोग उच्च आकांक्षाओं वाले होते हैं।

इनका लक्ष्य उन्नति करते जाना होता है, अधिक समय एक जगह रुककर यह कार्य नहीं कर सकते। इन्हें बुरी परिस्थितियों से लडऩा बहुत अच्छे से आता है।

- इनके लिए मंगलवार, गुरुवार और शुक्रवार अधिक शुभ होते हैं।

- हर माह की 6, 9, 15, 18, 27 तारीखें इनके लिए विशेष रूप से लाभदायक हैं।

- इन लोगों की अंक 6 और अंक 9 वाले व्यक्तियों से काफी अच्छी मित्रता रहती है।

- रंगों में इनके लिए बैंगनी, लाल, गुलाबी, नीला शुभ होते है।

4 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिस व्यक्ति का जन्म किसी भी माह की 4 तारीख को हुआ हो, उसका मूलांक 4 होता है। अंक ज्योतिष के अनुसार ऐसे व्यक्ति एक विशेष प्रकार के चरित्र वाले होते हैं। इस अंक का स्वामी यूरेनस होता है।

अंक 4 के लोग काफी संवेदनशील होते हैं। इन्हें जल्दी गुस्सा आ जाता है। छोटी-छोटी बातों पर बुरा मान जाते हैं। इस स्वभाव की वजह से इनके ज्यादा मित्र नहीं होते हैं। मित्र कम होने से ये लोग अधिकांश समय अकेलापन महसूस करते हैं। ये किसी को दुखी नहीं देख सकते हैं।

- अंक 4 वाले लोगों के लिए रविवार, सोमवार और शनिवार भाग्यशाली दिन होते हैं।

- इनके लिए 1, 2, 7, 10, 11, 16, 18, 20, 25, 28, 29 तारीखें विशेष लाभ प्रदान करने वाली होती हैं।

- इन्हें नीला और ब्राउन कलर काफी फायदा पहुंचाता है अत: इन्हें इस रंग के कपड़े पहनना चाहिए।
5 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन व्यक्तियों का जन्म 5 तारीख को हुआ हो, वे सभी मूलांक 5 के लोग होते हैं। अंक ज्योतिष के अनुसार अंक 5 का स्वामी बुध ग्रह है। बुध ग्रह बुद्धि और विवेक का प्रतीक है। बुध के प्रभाव से इस अंक के व्यक्ति काफी बुद्धिमान और तुरंत निर्णय लेने वाले होते हैं।

अंक 5 वाले काफी स्टाइलिश होते हैं और वैसे ही कपड़े पहनना पसंद करते हैं। इनकी सभी लोगों से बहुत जल्द दोस्ती हो जाती है और ये अच्छी दोस्ती निभा भी सकते हैं। दोस्तों के लिए यह जितने उदार और शुभचिंतक होते हैं, ठीक इसके विपरीत दुश्मनों के लिए उतने ही बुरे होते हैं।

- इन लोगों के लिए बुधवार और शुक्रवार शुभ होते हैं।

- रंगों में इनके लिए हल्का ब्राउन, सफेद और चमकदार रंग बेहद लाभदायक हैं।

- इन्हें गहरे रंग के कपड़े कम से कम पहनना चाहिए।

- इनके लिए 5, 14, 23 तारीखें भाग्यशाली होती हैं।

6 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 6 तारीख को हुआ है, वे सभी अंक 6 वाले माने जाते हैं। अंक ज्योतिष के अनुसार अंक 6 का स्वामी शुक्र ग्रह है। शुक्र ग्रह से प्रभावित व्यक्ति काफी ग्लैमरस और हाई लाइफ स्टाइल के साथ जीवन जीते हैं। ऐसे लोगों से कोई भी बहुत ही जल्द आकर्षित हो जाता है। इस वजह से इनके कई मित्र होते हैं और इस अंक के अधिकांश व्यक्तियों के एक से अधिक प्रेम संबंध भी होते हैं।

अंक 6 के लोग किसी भी कार्य को विस्तृत योजना बनाकर ही करते हैं, जिससे इन्हें सफलता अवश्य प्राप्त होती है। यह लोग स्वभाव से थोड़े जिद्दी होते हैं। जो कार्य शुरू करते हैं, उसे पूरा करने के बाद ही इन्हें शांति मिलती है।

- इनके लिए मंगलवार, गुरुवार, शुक्रवार शुभ दिन होते हैं। इन दिनों से शुरू किए गए कार्यों में इन्हें सफलता अवश्य प्राप्त होती है।

- किसी भी माह की 3, 6, 9, 12, 15, 18, 21, 24, 27, 30 तारीख के दिन शुभ होते हैं।

- इन लोगों के लिए बैंगनी और काला रंग अशुभ है। इन्हें लाल या गुलाबी शेड्स के कपड़े पहनने चाहिए।

- इन लोगों की मित्रता 3, 6, 9 अंक वालों से अच्छी रहती है।

- ये लोग अंक 5 के लोगों से आगे बढऩे का बहुत प्रयास करते हैं, परंतु पीछे रह जाते हैं।
7 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन व्यक्तियों का जन्म किसी भी माह की 7 तारीख को हुआ हो, वे अंक 7 वाले होते हैं। इस अंक के स्वामी वरुण देव अर्थात् जल के देवता हैं। जल मूल रूप से चंद्रमा से संबंधित है। इसी वजह से इस अंक के लोगों पर चंद्रमा का विशेष प्रभाव रहता है।

अंक 7 लोग स्वतंत्र विचारों वाले और आकर्षक व्यक्तित्व के धनी होते हैं। ये लोग किसी को भी बड़ी आसानी से प्रभावित कर लेते हैं। चंद्र से संबंधित होने के कारण ये मन से बड़े ही चंचल होते हैं। इन्हें मस्ती-मजाक करना पसंद होता है। ये लोग अपने मित्रों का हमेशा मनोरंजन करते रहते हैं। सभी को खुश रखते हैं।

- अंक 7 वालों के लिए रविवार और सोमवार शुभ दिन होते हैं।

- इनके लिए माह की 1, 2, 4, 7, 10, 11, 13, 16, 19, 20, 22, 25, 28, 29, 31 तारीखें शुभ फल देने वाली हैं।

- इनके लिए हरा, पीला, सफेद, क्रीम और हल्के रंग लाभदायक है।

- इन्हें गहरे रंगों के उपयोग से बचना चाहिए।

- अंक 7 वालों को भगवान की विशेष कृपा प्राप्त करने के लिए प्रतिदिन शिवलिंग पर जल चढ़ाना चाहिए।
8 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

किसी भी माह की 8 तारीख को जन्म लेने वाले व्यक्ति अंक 8 वाले होते हैं। अंक ज्योतिष के अनुसार ये लोग काफी रहस्यमयी स्वभाव के होते हैं। इन्हें समझना काफी मुश्किल होता है।

अंक 8 के लोगों का व्यवहार अन्य अंक वालों से बिल्कुल अलग होता है। ये लोग हर बात के लिए बहुत गहराई से सोचते हैं तथा बोलने में स्पष्टवादी होते हैं। इसलिए अपने जीवन में इन्हें कई प्रकार के कष्टों का सामना करना पड़ता है।

इस अंक के लोगों में मनोबल एवं आध्यात्मिक शक्ति अधिक होती है। इन लोगों का परमात्मा पर अधिक विश्वास होता है।

- इन लोगों के लिए शनिवार का दिन विशेष महत्व रखता है। साथ ही, सोमवार और रविवार भी फायदेमंद रहते हैं।

- इन लोगों के लिए किसी भी माह की 8, 17 और 26 तारीखें बहुत शुभ रहती हैं।

- इनके लिए गहरा भूरा रंग, नीला, काला और बैंगनी रंग शुभ रहता है।

- इनके लिए काला नीलम या काला मोती धारण करना शुभ होता है

9 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 9 तारीख को हुआ है, वे अंक 9 के लोग होते हैं। अंक 9 का कारक मंगल ग्रह है और यह अंक मंगल का प्रतीक है। मंगल के प्रभाव से इन लोगों को गुस्सा काफी अधिक आता है। ये लोग जल्दबाजी में निर्णय ले लेते हैं और फिर बाद में बुरा परिणाम झेलना पड़ता है।

सामान्यतः: अंक 9 के लोग स्वप्रेरित होते हैं। खुद की प्रेरणा से कार्य करते हैं। ये लोग अपने गुस्से के कारण समाज में कई शत्रु बना लेते हैं। इन लोगों को दूसरों पर नियंत्रण रखना पसंद होता है, लेकिन जब इनकी यह इच्छा पूरी नहीं हो पाती है तो संबंधित कार्य से हट जाते हैं।

- अंक 9 वाले लोगों के लिए 3, 6, 9, 12, 15, 18, 21, 24, 27 और 30 तारीखें विशेष फायदेमंद रहती है।

- इन लोगों को अपने क्रोध पर काबू रखना चाहिए। गुस्से पर नियंत्रण करने के बाद इन्हें कार्यों में कई उपलब्धियां हासिल हो जाती हैं।

- इन लोगों के लिए रूबी रत्न धारण करना फायदेमंद रहता है। यह रत्न ऐसे धारण करना चाहिए कि ये हमेशा शरीर से स्पर्श होता रहे।

- इनके लिए शुक्रवार, बृहस्पतिवार, मंगलवार शुभ दिन होते हैं।

10 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की तारीख 10 को हुआ है, वे लोग रचनात्मक और खोज करने वाले होते हैं। इस अंक का कारक ग्रह सूर्य है। सूर्य के कारण इस अंक के लोगों को समाज में पूर्ण मान-सम्मान प्राप्त होता है।

इस अंक के लोग अपनी सफलता के मार्ग में आने वाली हर बाधा पर विजय प्राप्त कर लेते हैं। ये लोग अति महत्वाकांक्षी होते हैं। ये लोग जिस भी क्षेत्र में कार्य करते हैं, सफलताएं और ऊंचाइयां प्राप्त करते हैं। इस अंक वाले लोग सम्मान के भूखे होते हैं और अत्यधिक सम्मान प्राप्त करने की इच्छा रखते हैं।

- इस अंक के लोगों के लिए रविवार और सोमवार विशेष लाभ देने वाले दिन हैं।

- इनके लिए पीला, सुनहरा, भूरा रंग काफी फायदेमंद है।

- इन्हें तांबा और सोना धातु धारण करना चाहिए, इससे विशेष लाभ प्राप्त होता है।

- इनके लिए पुखराज, पीला हीरा, कहरुवा और पीले रंग के रत्न, जवाहरत आदि लाभदायक हैं।
11 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

अंक ज्योतिष के अनुसार इस अंक के लोगों की कल्पनाशक्ति और रचनात्मक क्षमता काफी अधिक होती है। इस अंक का कारक ग्रह चंद्र है। ये लोग चंद्र के प्रभाव से हर कार्य को अच्छे और बेहद ही आकर्षक तरीके से करते हैं। हर पल नया करने के लिए लालायित रहते हैं। ये लोग काफी रोमांटिक स्वभाव के होते हैं और विपरीत लिंग के प्रति बहुत अधिक आकर्षित होते हैं। अन्य लोग भी इनके व्यक्तित्व और कार्यशैली से इन पर मोहित हो जाते हैं। इस अंक के कुछ लोग शारीरिक दृष्टि से अधिक बलवान नहीं होते हैं, वे सामान्य शरीर वाले होते हैं।

- इस अंक के लोगों के लिए रविवार, सोमवार और शुक्रवार काफी शुभ दिन हैं।

- इनके लिए हरा या हल्का हरा रंग बेहद फायदेमंद है। क्रीम और सफेद रंग भी विशेष लाभ देते हैं।

- लाल, बैंगनी या गहरे रंग इनके लिए अच्छे नहीं होते।

- इस अंक वालों को मोती, चंद्रमणि, पीले-हरे रत्न पहनना चाहिए।

12 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

इस अंक के व्यक्ति बहुत भावुक होते हैं और अनुशासन बहुत पसंद करते हैं। इस अंक के लोगों की यही मानसिकता होती है कि इन्हें निरंतर प्रगति करना है। इस अंक का कारक ग्रह बृहस्पति है। इनके लिए जीवन का लक्ष्य हर समय खुश रहना और दूसरों को भी खुश रखना है। ये लोग स्वभाव से बहुत मनमौजी होते हैं। अपने से बड़ों के आदेशों का पालन करते हैं और चाहते हैं कि इनके आदेशों का पालन भी उसी तरह किया जाए।

- इनके लिए मंगलवार, गुरुवार और शुक्रवार अधिक शुभ होते हैं।

- हर माह की 6, 9, 15, 18, 27 तारीखें विशेष लाभदायक हैं।

- इन लोगों की अंक 6 और अंक 9 वाले व्यक्तियों से काफी अच्छी मित्रता रहती है।

- इनके लिए बैंगनी, लाल, गुलाबी, नीला रंग शुभ होता है।

13 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

इस अंक का कारक ग्रह यूरेनस है। इस अंक के लोग किसी एक विषय को भी अलग-अलग दृष्टिकोण के साथ देखते हैं। इन्हें बेकार तर्क-वितर्क करना पसंद नहीं होता है। इस अंक के छात्र-छात्राएं प्रतियोगी परिक्षाओं में विशेष उपलब्धियां हासिल करते हैं।

सामान्यत: इस अंक के लोगों से मित्रता निभाना काफी मुश्किल होता है, परंतु ये बहुत अच्छे मित्र होते हैं। ये लोग अपने शुभचिंतकों और स्नेहीजनों के लिए कुछ भी करने में बिल्कुल सोचते नहीं हैं।

इस अंक लोग सामान्यत: विरोधी दृष्टिकोण वाले होते हैं। किसी की बात से बहुत कम संतुष्ट होते हैं। इनसे मिलने वाले लोगों को ऐसा ही लगता है कि ये रुखे स्वभाव और गुस्से वाले लोग हैं, परंतु यह दिल से साफ होते हैं। किसी के प्रति मन में कोई बैर भाव नहीं रखते। फिर भी इनके कई शत्रु बन जाते हैं जो इन्हें नुकसान पहुंचाने की कोशिश करते रहते हैं।

- इस अंक वाले लोगों के लिए रविवार, सोमवार और शनिवार भाग्यशाली दिन होते हैं।

- इनके लिए 1, 2, 7, 10, 11, 16, 18, 20, 25, 28, 29 तारीखें विशेष लाभ प्रदान करने वाली होती हैं।

- इन्हें नीला और ब्राउन कलर काफी फायदा पहुंचाता है, अत: इन्हें इस रंग के कपड़े पहनना चाहिए।

14 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

इस का स्वामी ग्रह है बुध। बुध ग्रह को ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नौ ग्रहों में राजकुमार का पद प्राप्त है। अत: इस अंक वाले लोगों को बुध वैसा ही वैभव और जीवन स्तर प्रदान करता है। अंक 5 वाले लोग काफी स्टाइलिश होते हैं और वैसे ही डिजाइनर कपड़े पहनना पसंद करते हैं। सामान्यत: इनकी सभी से बहुत जल्द दोस्ती हो जाती है और ये लोग सभी से अच्छी दोस्ती निभा सकते हैं। दोस्तों के लिए ये जितने उदार और शुभचिंतक होते हैं, दुश्मनों के लिए उतने ही बुरे होते हैं।

- इन लोगों के लिए बुधवार और शुक्रवार शुभ होते हैं।

- रंगों में इनके लिए हल्का ब्राउन, सफेद और चमकदार रंग बेहद लाभदायक है।

- इन्हें गहरे रंग के कपड़े कम से कम पहनना चाहिए।

- इनके लिए 5, 14, 23 तारीखें भाग्यशाली होती हैं।

15 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म माह की 15 तारीख को हुआ है, वे समाज, ऑफिस और परिवार के सभी लोगों से विशेष स्नेह रखते हैं। साथ ही, इनके अधीन कार्य करने वाले लोग भी इनका बहुत सम्मान करते हैं। इस अंक का कारक ग्रह शुक्र है। शुक्र के प्रभाव से इनका झुकाव प्रेम-प्रसंग और जीवन साथी की ओर अधिक होता है। हालांकि, माता-पिता की ओर भी ये लोग पूरा ध्यान देते हैं।

वैसे तो प्रेम में सभी अपने साथी की हर मनोकामना पूरी करने की कोशिश करते हैं, परंतु इस अंक के लोग प्रेम में काफी अधिक डूब जाते हैं। ये लोग अपने प्रेमी की छोटी-छोटी इच्छाओं को भी पूरा करने के लिए भी हमेशा तैयार रहते हैं।

- इनके लिए मंगलवार, गुरुवार और शुक्रवार शुभ दिन होते हैं। इन दिनों से शुरू किए गए कार्यों में इन्हें सफलता अवश्य प्राप्त होती है।

- किसी भी माह की 3, 6, 9, 12, 15, 18, 21, 24, 27, 30 तारीख के दिन शुभ होते हैं।

- इन लोगों के लिए बैंगनी और काला रंग अशुभ है। इन्हें लाल या गुलाबी शेड्स के कपड़े पहनना चाहिए।

- इन लोगों की मित्रता 3, 6, 9 अंक वालों से अच्छी रहती है।

- ये लोग अंक 5 के लोगों से आगे बढऩे का बहुत प्रयास करते हैं, परंतु पीछे रह जाते हैं।

16 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 16 तारीख को हुआ है, वे लोग चंद्र से प्रभावित होते हैं। इस अंक का कारक ग्रह नेपच्यून है, नेपच्यून यानी वरुण ग्रह जल का कारक है और जल पर चंद्र का सीधा असर होता है।

ज्योतिष के अनुसार चंद्रमा की चाल अन्य ग्रहों में सबसे तेज है। चंद्र किसी भी राशि में मात्र ढाई दिन ही रुकता है। इसलिए इसे चंचलता का प्रतीक माना जाता है।

सामान्यत: इस अंक के लोग चंद्र के प्रभाव से लेखक, चित्रकार या कवि बन जाते हैं। इन्हें हर कार्य को नए तरीके से करना पसंद होता है।

- इस अंक वालों के लिए रविवार और सोमवार शुभ दिन होते हैं।

- माह की 1, 2, 4, 7, 10, 11, 13, 16, 19, 20, 22, 25, 28, 29, 31 तारीखें शुभ फल देने वाली हैं।

- इनके लिए हरा, पीला, सफेद, क्रीम और हल्के रंग लाभदायक है।

- इन्हें गहरे रंगों के उपयोग से बचना चाहिए।

- इन्हें भगवान की विशेष कृपा प्राप्त करने के लिए प्रतिदिन शिवलिंग पर जल चढ़ाना चाहिए।

17 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

किसी भी माह की 17 तारीख को जन्म लेने वाले व्यक्ति के अंक का स्वामी ग्रह शनि है। अंक ज्योतिष के अनुसार ये लोग काफी रहस्यमयी स्वभाव के होते हैं। इन्हें समझना काफी मुश्किल होता है।

इस अंक के लोगों का व्यवहार अन्य अंक वालों से बिल्कुल अलग होता है। ये लोग दूसरो के लिए भाग्यशाली होते हैं और दूसरों पर पूरा प्रभाव रखते हैं। शनि के कारण इन लोगों का व्यवहार थोड़ा रुआबदार होता है। अपने जिद्दी स्वभाव के कारण इन्हें कभी-कभी अकेलेपन का भी सामना करना पड़ता है।

शनि के कारण इन लोगों को जीवन में कई बार कठिन समय का सामना करना पड़ता है। यह लोग हर बात को बहुत गहराई से सोचते हैं तथा बोलने में स्पष्टवादी होते हैं। इसलिए अपने जीवन में इनको कई प्रकार के कष्टों का सामना करना पड़ता है।

- इन लोगों के लिए शनिवार का दिन विशेष होता है। इसके साथ ही सोमवार और रविवार भी इनके लिए फायदेमंद रहते हैं।

- इन लोगों के लिए किसी भी माह के लिए 8, 17 और 26 तारीखें बहुत शुभ रहती हैं।

- रंगों में इनके लिए गहरा भूरा रंग, नीला, काला और बैंगनी शुभ रहता है।

- इनके लिए काला नीलम या काला मोती धारण करना शुभ रहता है।

18 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 18 तारीख को हुआ है, उनके अंक का कारक मंगल ग्रह है और यह अंक मंगल का प्रतीक है। इस अंक के अधिकतर लोगों का जीवन संघर्ष के साथ व्यतीत होता है। छोटी-छोटी सफलताओं के लिए भी इन्हें कड़ी मेहनत करना होती है।

ये लोग संगठन में कार्य करने में बहुत कुशल होते हैं और दूसरों पर नियंत्रण रखना इनका शौक होता है। मंगल के प्रभाव से इन लोगों को गुस्सा काफी अधिक आता है। ये लोग जल्दबाजी में निर्णय ले लेते हैं और फिर बाद में इन्हें बुरा परिणाम झेलना पड़ता है।

- इस अंक वाले लोगों के लिए 3, 6, 9, 12, 15, 18, 21, 24, 27 और 30 तारीखें विशेष फायदेमंद रहती है।

- इन लोगों को अपने क्रोध पर काबू रखना चाहिए। गुस्से पर नियंत्रण के बाद इन्हें कार्यों में कई उपलब्धियां हासिल हो जाती हैं।

- इन लोगों के लिए रूबी रत्न धारण करना फायदेमंद रहता है। यह रत्न ऐसे धारण करना चाहिए कि ये हमेशा शरीर को स्पर्श करता रहे।

- इनके लिए शुक्रवार, बृहस्पतिवार, मंगलवार शुभ दिन होते हैं।

19 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 19 तारीख को हुआ है, वे लोग रचनात्मक तरीके से किसी कार्य को पूर्ण कर लेते हैं। इन लोगों का लकी नंबर 1 होता है। इस अंक का कारक ग्रह सूर्य है। इसलिए अंक 1 वाले सभी लोगों को सूर्य विशेष रूप से प्रभावित करता है।

अंक ज्योतिष के अनुसार इस अंक वाले व्यक्ति रचनात्मक, सकारात्मक सोच वाले और नेतृत्व क्षमता के धनी होते हैं। ये लोग जो कार्य शुरू करते हैं, उसे पूरा करने के बाद ही शांति से बैठते हैं। इन लोगों का विशेष गुण होता है कि ये लोग हर कार्य को पूर्ण योजना बनाकर करते हैं, अपने कार्य के प्रति पूरे ईमानदार रहते हैं।

- इस अंक वाले लोगों के लिए रविवार और सोमवार विशेष लाभ देने वाले दिन हैं।

- इनके लिए पीला, सुनहरा, भूरा रंग काफी फायदेमंद है।

- तांबे और सोने की धातु धारण करना, इन्हें विशेष लाभ प्रदान करता है।

- इनके लिए पुखराज, पीला हीरा, कहरुवा और पीले रंग के रत्न, जवाहरात आदि लाभदायक हैं।
20 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म 20 तारीख को हुआ है, वे लोग अधिक समय तक एक जैसा जीवन नहीं जी सकते, इन्हें परिवर्तन काफी पसंद होता है। इनके मित्र अधिक होते हैं। मन की चंचलता के कारण इनका मन अधिकांश समय अस्थिर ही रहता है। विपरीत परिस्थितियों में बहुत जल्दी दुखी हो जाते हैं और कई बार हिम्मत भी हार जाते हैं। ऐसे में आत्मविश्वास की कमी आ जाती है।

इस अंक का कारक ग्रह चंद्रमा है। चंद्रमा रचनात्मकता और कल्पनाशीलता का प्रतिनिधित्व करता है। चंद्रमा के सभी गुण अंक 20 वाले में विद्यमान रहते हैं।

जिस प्रकार चंद्रमा को चंचलता का प्रतीक माना जाता है कि ठीक उसी प्रकार अंक 20 वाले भी चंचल स्वभाव के होते हैं। चंद्र के प्रभाव से ये लोग प्रेम-प्रसंग में भी पारंगत रहते हैं।

- इस अंक के लोगों के लिए रविवार, सोमवार और शुक्रवार काफी शुभ दिन होते हैं।

- इनके लिए हरा या हल्का हरा रंग बेहद फायदेमंद है। क्रीम और सफेद रंग भी विशेष लाभ देते हैं।

- लाल, बैंगनी या गहरे रंग इनके लिए अच्छे नहीं होते।

- इन्हें मोती, चंद्रमणि, पीले-हरे रत्न पहनना चाहिए।

21 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 21 तारीख को हुआ है, वे लोग अपनी अलग ही विशेषता के कारण प्रसिद्ध होते हैं। सामान्यत: इस अंक के लोग काफी महत्वाकांक्षी होते हैं। इस अंक का ग्रह स्वामी गुरु है। गुरु के प्रभाव से ये लोग किसी उच्च पद को प्राप्त करते हैं। इन्हें किसी भी प्रकार का दबाव पसंद नहीं होता है। यदि काम को लेकर इन पर दबाव बनाया जाता है तो ये लोग खीजने लग जाते हैं।

इस अंक के लोग हर क्षेत्र में ऊंचाई पर पहुंचते हैं। इन्हें मेहनत अधिक करना होती है, परंतु अंतत: सफलता प्राप्त कर लेते हैं।

- इनके लिए मंगलवार, गुरुवार और शुक्रवार अधिक शुभ होते हैं।

- हर माह की 6, 9, 15, 18, 27 तारीखें इनके लिए विशेष रूप से लाभदायक हैं।

- इन लोगों की अंक 6 और अंक 9 वाले व्यक्तियों से काफी अच्छी मित्रता रहती है।

- रंगों में इनके लिए बैंगनी, लाल, गुलाबी, नीला शुभ होते है।

22 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 22 तारीख को हुआ है, वे लोग अपने आसपास के लोगों से एकदम अलग स्वभाव के होते हैं। ये लोग तर्क-वितर्क करते रहते हैं, इसी वजह से इनके गुप्त शत्रु होते हैं। पुराने समय से चली आ रही परंपराओं के प्रति इनका झुकाव कम ही होता है। इस अंक का स्वामी यूरेनस होता है।

इस अंक के लोग काफी संवेदनशील होते हैं। ये लोग काफी जल्दी गुस्सा हो जाते हैं। छोटी-छोटी बातों पर बुरा मान जाते हैं। इसी स्वभाव की वजह से इनके ज्यादा मित्र नहीं होते हैं। मित्र कम होने की वजह से ये लोग अधिकांश समय अकेलापन महसूस करते हैं। ये लोग किसी को दुखी नहीं देख सकते।

- इन लोगों के लिए रविवार, सोमवार और शनिवार भाग्यशाली दिन होते हैं।

- इनके लिए 1, 2, 7, 10, 11, 16, 18, 20, 25, 28, 29 तारीखें विशेष लाभ प्रदान करने वाली होती हैं।

- इन्हें नीला और ब्राउन कलर काफी फायदा पहुंचाता है, अत: इन्हें इस रंग के कपड़े पहनना चाहिए।

23 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों की जन्म तारीख 23 है, वे लोग उत्तेजक कार्य करने में ज्यादा विश्वास रखते हैं। इनका ज्यादा झुकाव पैसों की ओर होता है। धन की प्राप्ति के लिए ये लोग प्राय: नए-नए रास्तों की खोज करने में लगे रहते हैं। इसी वजह से अंक 5 के लोग खूब धन भी प्राप्त कर लेते हैं।

इस अंक का स्वामी बुध है। बुध के प्रभाव से ये लोग काफी बुद्धिमान होते हैं और बुद्धि संबंधी कार्यों में विशेष सफलता भी प्राप्त करते हैं। ये लोग किसी भी कार्य के लिए शीघ्र निर्णय कर लेते हैं, इसी आदत की वजह से कई बार इन्हें नुकसान भी होता है।

- इन लोगों के लिए बुधवार और शुक्रवार शुभ होते हैं।

- रंगों में इनके लिए हल्का ब्राउन रंग, सफेद और चमकदार रंग बेहद लाभदायक है।

- इन्हें गहरे रंग के कपड़े कम से कम पहनना चाहिए।

- इनके लिए 5, 14, 23 तारीखें भाग्यशाली होती हैं।

24 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों की जन्म तारीख 24 है, उनके लिए अपने परिवार और शुभचिंतकों की कोई भी बात किसी आदेश के समान ही होती है। प्रेम में इन लोगों का स्वभाव काफी समर्पित रहता है। अपने साथी की किसी भी इच्छा को पूरी करने के लिए ये लोग सदैव तत्पर रहते हैं।

ये लोग अपने इरादों के पक्के होते हैं और जो काम एक बार सोच लेते हैं, उसे पूरा करके ही चैन की सांस लेते हैं। इन लोगों को सुंदर वस्तुएं बहुत जल्दी आकर्षित कर लेती हैं। माता-पिता की ओर भी इनका झुकाव काफी अधिक रहता है।

अंक ज्योतिष के अनुसार इस अंक का स्वामी शुक्र ग्रह है। शुक्र ग्रह से प्रभावित व्यक्ति काफी ग्लैमरस और हाई लाइफ स्टाइल के साथ जीवन जीते हैं। ऐसे लोगों से कोई भी बहुत ही जल्द आकर्षित हो जाता है।

- इनके लिए मंगलवार, गुरुवार, शुक्रवार शुभ दिन होते हैं। इस दिन शुरू किए कार्यों में इन्हें सफलता अवश्य प्राप्त होती है।

- किसी भी माह की 3, 6, 9, 12, 15, 18, 21, 24, 27, 30 तारीख के दिन शुभ होते हैं।

- इन लोगों के लिए बैंगनी और काला रंग अशुभ है। इन्हें लाल या गुलाबी शेड्स के कपड़े पहनने चाहिए।

- इन लोगों की मित्रता 3, 6, 9 अंक वालों से अच्छी रहती है।

- ये लोग अंक 5 के लोगों से आगे बढऩे का बहुत प्रयास करते हैं परंतु पीछे रह जाते हैं।

25 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जो लोग किसी भी माह की 25 तारीख को जन्म लेते हैं, वे लोग आमतौर पर यात्रा के दौरान पुस्तक पढऩा पसंद करते हैं। इस अंक का कारक ग्रह वरुण है और यह जल का कारक है। जल पर चंद्रमा का सीधा असर होता है। चंद्र के असर से इन लोगों का स्वभाव चंचल हो जाता है। ये लोग विदेश यात्रा पर जाने के लिए प्रयत्न करते रहते हैं। इन्हें समाज की अलग-अलग तरह की जानकारी एकत्र करना भी अच्छा लगता है। घर-परिवार में इन लोगों का काफी मान-सम्मान होता है।

इस अंक पर सीधे असर डालने वाला ग्रह चंद्र हमारे मन का स्वामी भी होता है। हर माह अमावस्या और पूर्णिमा के दिन इस अंक के लोगों को चंद्रमा विशेष रूप से प्रभावित करता है। धर्म के मामले में इन्हें पुरानी परंपराएं पसंद नहीं होती।

- इस अंक वालों के लिए रविवार और सोमवार शुभ दिन होते हैं।

- माह की 1, 2, 4, 7, 10, 11, 13, 16, 19, 20, 22, 25, 28, 29, 31 तारीखें शुभ फल देने वाली हैं।

- इनके लिए हरा, पीला, सफेद, क्रीम और हल्के रंग विशेष रूप से फायदेमंद होते हैं।

- इन्हें गहरे रंगों के उपयोग से बचना चाहिए।

- इन्हें भगवान की विशेष कृपा प्राप्त करने के लिए प्रतिदिन शिवलिंग पर जल चढ़ाना चाहिए।

26 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

इस अंक का कारक ग्रह शनि है। ज्योतिष में शनि को न्यायाधीश माना जाता है। शनि किसी भी व्यक्ति के द्वारा किए गए अच्छे-बुरे कर्मों का फल प्रदान करता है। इस वजह से शनि को क्रूर ग्रह माना जाता है। शनि के प्रभाव से ही ये लोग दृढ़ इच्छा शक्ति वाले होते हैं। इन लोगों का दूसरों पर काफी गहरा असर होता है। जब ये लोग किसी कार्य का उत्तरदायित्व अपने कंधों पर लेते हैं तो उसे पूरा अवश्य करते हैं।

इस अंक के लोगों में मनोबल एवं आध्यात्मिक शक्ति अधिक होती है। इन लोगों का परमात्मा पर विश्वास अधिक होता है।

- इन लोगों के लिए शनिवार का दिन विशेष होता है। इसके साथ ही सोमवार और रविवार भी इनके लिए फायदेमंद रहते हैं।

- इन लोगों के लिए किसी भी माह के लिए 8, 17 और 26 तारीखें बहुत शुभ रहती हैं।

- रंगों में इनके लिए गहरा भूरा रंग, नीला, काला और बैंगनी शुभ रहता है।

- इनके लिए काला नीलम या काला मोती धारण करना शुभ रहता है।

27 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

इस अंक के लोग अति परिश्रमी और साहसी होते हैं। ये लोग किसी भी कार्य को पूरी ईमानदारी के साथ पूर्ण करते हैं और इसी वजह से इन्हें ऑफिस में प्राथमिकता दी जाती है। हालांकि इस अंक लोगों को जीवन में कई बार परेशानियों का सामना करना पड़ता है, लेकिन अंतत: सफलता अवश्य प्राप्त होती है।

इस अंक का स्वामी मंगल है। मंगल के प्रभाव से ये लोग जल्दी क्रोधित होने वाले होते हैं। कभी-कभी जल्दबाजी में निर्णय भी ले लेते हैं। ये लोग अपने उत्साह और साहस के बल पर बड़ी-बड़ी परेशानियों को आसानी से दूर कर लेते हैं।

- इस अंक वाले लोगों के लिए 3, 6, 9, 12, 15, 18, 21, 24, 27 और 30 तारीखें विशेष फायदेमंद रहती है।

- इन लोगों को अपने क्रोध पर काबू रखना चाहिए। गुस्से पर नियंत्रण के बाद इन्हें कार्यों में कई उपलब्धियां हासिल हो जाती हैं।

- इन लोगों के लिए रूबी रत्न धारण करना फायदेमंद रहता है। यह रत्न ऐसे धारण करना चाहिए कि हमेशा शरीर से स्पर्श होता रहे।

- इनके लिए शुक्रवार, बृहस्पतिवार और मंगलवार शुभ दिन होते हैं।

28 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 28 तारीख को हुआ है, वे लोग सूर्य से सीधे प्रभावित होते हैं। इन लोगों पर सूर्य देव की विशेष कृपा रहती है, क्योंकि इस अंक का स्वामी ग्रह सूर्य ही है। सूर्य से इन्हें किसी भी कार्य को करने के लिए पूरी ऊर्जा की प्राप्ति होती है। जिस प्रकार सूर्य चारों और रोशनी फैलाता है, ठीक इसी प्रकार ये लोग भी समाज और घर-परिवार में अपना प्रभाव फैलाते हैं।

सामान्यत: इस अंक के लोग अतिमहत्वाकांक्षी होते हैं और अपने लक्ष्य के मार्ग में आने वाली सभी परेशानियों को आसानी से दूर कर लेते हैं।

जो लोग इनके अधीन कार्य करते हैं, वे प्राय: इन्हीं पर आश्रित रहते हैं। इनकी मदद के बिना इनके साथी कार्य को ठीक से पूरा नहीं कर पाते हैं।

- इस अंक के लोगों के लिए रविवार और सोमवार विशेष लाभ देने वाले दिन हैं।

- इनके लिए पीला, सुनहरा, भूरा रंग काफी फायदेमंद है।

- तांबे और सोने से इन्हें विशेष लाभ प्राप्त होता है।

- इनके लिए पुखराज, पीला हीरा, कहरुवा और पीले रंग के रत्न, जवाहरत आदि लाभदायक हैं।

29 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

इस अंक का स्वामी चंद्र है। चंद्र के प्रभाव से ये लोग सूर्य से संबंधित अंकों वाले लोगों से विशेष तालमेल रखते हैं। ये लोग अपनी कल्पना शक्ति के बल पर किसी भी कार्य को नए ढंग से करने में सफल रहते हैं। अपनी इसी योग्यता के कारण इन्हें कार्यालय में भी विशेष स्थान प्राप्त होता है। ये लोग शरीर की अपेक्षा मस्तिष्क से अधिक बलवान होते हैं।

जिस प्रकार चंद्रमा को चंचलता का प्रतीक माना जाता है कि ठीक उसी प्रकार इस अंक के लोग भी चंचल स्वभाव के होते हैं। चंद्र के प्रभाव से ये लोग प्रेम-प्रसंग में भी पारंगत रहते हैं।

- इस अंक के लोगों के लिए रविवार, सोमवार और शुक्रवार काफी शुभ दिन होते हैं।

- इनके लिए हरा या हल्का हरा रंग बेहद फायदेमंद है। इन्हें क्रीम और सफेद रंग भी विशेष लाभ देते हैं।

- लाल, बैंगनी या गहरे रंग इनके लिए अच्छे नहीं होते।

- अंक 2 वालों को मोती, चंद्रमणि, पीले-हरे रत्न पहनना चाहिए।

30 तारीख को जन्म लेने वाले लोग

जिन लोगों की जन्म तारीख 30 है, वे लोग कभी-कभी तानाशाही भी करने लगते हैं। इसी वजह से इनके कई विरोधी हो जाते हैं। अति स्वाभिमान और दूसरों के प्रति आभार मानना भी इन्हें पसंद नहीं होता।

इस अंक का स्वामी ग्रह बृहस्पति है और इसी ग्रह की वजह से इन्हें भाग्य का पूरा साथ मिलता है। सामान्यतः: इन लोगों को किसी के नेतृत्व में काम करना अधिक पसंद नहीं होता है, लेकिन परिस्थितिवश ये लोग किसी संगठन में भी अच्छे ढंग से कार्य पूर्ण कर सकते हैं।

इनका लक्ष्य उन्नति करते जाना होता है, ये लोग अधिक समय एक जगह रुककर कार्य नहीं कर सकते। इन्हें बुरी परिस्थितियों से लडऩा बहुत अच्छे से आता है।

- इनके लिए मंगलवार, गुरुवार और शुक्रवार अधिक शुभ होते हैं।

- हर माह की 6, 9, 15, 18, 27 तारीखें इनके लिए विशेष रूप से लाभदायक हैं।

- इन लोगों की अंक 6 और अंक 9 वाले व्यक्तियों से काफी अच्छी मित्रता रहती है।

- रंगों में इनके लिए बैंगनी, लाल, गुलाबी, नीला रंग शुभ होता है।

31 तारीख को जन्म लेने वाले

जिन लोगों का जन्म किसी भी माह की 31 तारीख को हुआ है, वे लोग गुप्त विरोधियों से परेशान रहते हैं। सामान्यत: इनके स्वभाव में तर्क-वितर्क करना शामिल होता है और इसी वजह से ये लोग शत्रुओं की संख्या बढ़ा लेते हैं। इस अंक का स्वामी ग्रह यूरेनस (अरुण) होता है। अत: इन लोगों पर सूर्य का सीधा असर होता है।

कुछ लोग इनके स्वभाव को देखते हुए अंदाजा लगाते हैं कि ये लोग झगड़ालू स्वभाव के होंगे, लेकिन ऐसा होता नहीं है। अपने तर्क-वितर्क के कारण इन्हें वाद-विवाद और कानूनी कार्यों में विशेष सफलता प्राप्त होती है।

किसी भी प्रकार की विपरीत परिस्थितियों से ये लोग आसानी से अपने पक्ष में कर लेते हैं। ये लोग घर-परिवार में अलग-अलग नियम बनाते हैं।

- इन लोगों के लिए रविवार, सोमवार और शनिवार भाग्यशाली दिन होते हैं।

- इनके लिए 1, 2, 7, 10, 11, 16, 18, 20, 25, 28, 29 तारीखें विशेष लाभ प्रदान करने वाली होती हैं।

- इन्हें नीला और ब्राउन कलर काफी फायदा पहुंचाता है अत: इन्हें इस रंग के कपड़े पहनना चाहिए।

 

आप हमारे यहा से व्यापार वृर्दि यंत्र . धनाधीशकुबेरदेवता यंत्र . बगलामुखी यंत्र . श्री यंत्र .  शत्रु नाशक यंत्र . आर्थिक स्थिति में सुधार यंत्र . कर्ज मुक्ति यंत्र . सम्पूर्णवास्तु दोष निवारण यंत्र. सर्वकार्य सिद्धि यंत्र . वशीकरण यंत्र  . नवगग्रह यंत्र  . ऑर तंत्र व नकारात्मक ऊर्जा दूर करने का उपाय जाने . रक्षा मंत्र यंत्र  .विशेष सामग्री से प्रेत बाधा से ग्रस्त घर में धूनी दें, प्रेत बाधा, क्लेशादि दूर होंगे और परिवार में शांति और सुख का वातावरण उत्पन्न होगा। व्यापार स्थल पर यह सामग्री धूनी के रूप में प्रयोग करें, व्यापार में उन्नति होगी।

मंगवाने के लिये सम्पर्क करे ।

मेरा मोबाईल न0॰है। (9760924411) इसी नंबर पर और दोपहर-11.00 –बजे से शाम -08.00 -के मध्य ही संपर्क करें। मुजफ्फरनगर ॰उ0॰प्र0……..

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>